Dua To Get Married

Some Duas Are So Powerful that whole world knows that what impact these duas can make in anyone's life.

Wazifa & Istikhara

We Provide Special Guidance to Full Fill The Knowledge of Wazifas and Ishtikhara For Daily Life Problem Solution.

Kala Jadu Tor & Ilaj Experts

To Break the Powerful Black Magic Tactics and Specially Tor of Kala Jadu By Some Basic Techniques.

Slider

Dua : What is Dua Means For all in Islam. Here is the Explanation “Muhammad is accounted for to have stated, “Dua is the plain substance of love,” while one of God’s directions communicated through the Quran is for them to shout to Him: And your Lord says: “Approach Me; I will answer your (Prayer)”: — Quran, surah 40 (Ghafir), ayah 60.”  

Why DUA is So Important ?

In the current distraught and slippery world request where life and property is perilous or more all our confidence is likewise risky. The straightforward individuals are made numb-skull of the enchantment and special necklaces and afterward the general population are burgled for invalidating the impacts of such charms and ornaments. Dua For impossible to possible works are so important. Keeping in mind the end goal to dispose of these fake forecasters, future indicators and clairvoyants, one needs to make Quran the code of ones life since Islam gives a best code of life. The best of code of life includes the Duas which are in different languages but are so important.

Islam has a combined point of view identified with each field of life. Whether a man is glad or dismal, Islam gives coherent direction to him identified with his own or social life, political or religious matters, monetary or budgetary dealings, and each other field of life. Islam additionally helps the people in the field of wellbeing by offering a profound strategy for cure of ailments. Quran recognizes these viewpoints also in the form of Dua.

Dua for health in english. Dua for kids. dua in hindi. aulad hone ki dua. muslim dua in hindi.

FAQ

Islamic Dua In Hindi ?

Dua- ek arbi angreji akshro se bana shabd he, yeh akshar ya shabd ka ek esa mel hai jo ki isko anokha aur aashchrya janak banata hain. Dua aam tor par prarthna ya allah ko bulane ka sadhan ho skta hai. agar santosh janak dhang se dua ki jaye to allah ko bulaya ya manaya ja skta hai.
Yeh Apne aap me hi ek anokhi baat he. dua ka matlab hai prarthna karna aur hum sab malik ke saath baath karne ka arth hi prarthna hai.

What is Istikhara ?

“The Messenger of Allah (peace and favors of Allah be upon him) used to show his buddies to make Istikharah in all things, pretty much as he used to show them Surahs from the Qur’an.
He (SAW) said: ‘If any of you is worried around a choice he needs to make, (or in the form described by Ibn Mas’ood as: ‘if any of you needs to do something…) then let him implore two rak’ahs of non-required petition and say (after the Salah)

Islamic Dua Mean In English ?

An Arabic word composed here in English letters. Three little letters that make up a word and a subject that is substantial and stunning. This word “dua” could be generally meant mean supplication or summon. Albeit neither word satisfactorily characterize dua. Supplication, which implies speaking with a divinity, comes nearer than conjuring which is known not suggest summoning spirits or fallen angels.

What is WAZIFA ?

The interpretation of the Arabic word “wazifa” into English signifies “to utilize”. In any case, the term wazifa is all the more regularly used to allude to the act of recounting a few verses or expressions to look for a particular support or reward. 

In Sufism, the term alludes to the summoning of characteristics of Allah by recounting or ruminating over a few or the greater part of the 99 Names of Allah.

Wazifa

वज़ीफ़ा शब्द का शाब्दिक अर्थ है मात्रा, परिमाण या योग | इस शब्द को आम तौर पर किसी भी दुआ को कितनी बार या किस रूप मे कितनी बार पढ़ा जाए ताकि कोई मुसीबत या परेशानी से छुटकारा मिले आदि के लिए वर्णनात्मक संज्ञा के रूप में प्रयोग किया जाता है। अल्लाह ताला ने कुरान में कई स्थानों पर उल्लेख किया है की उनकी कठिनाइयों के समय कई बार ओर कई तरीक़ो से किसी भी दुआ को वज़ीफ़े के तौर पर इस्तेमाल किया गया था । इस तरह से वज़ीफ़ा कठिनाइयों से लड़ने ओर उन्हे दूर करने ओर हटाने में महत्वपूर्ण और फायदेमंद हैं |

अमलियात

अमलियात – अमलियात एक अरेबिक शब्द हे जिसका मतलब हे की कोई भी ऐसा काम करना जिसका तुरंत या कोई असरदार प्रभाव हो चाहे वो किस जादू या तावीज़ की मदद से किया जाए |
अमलियात वो चीज़ हे जिसको पूरा करने के लिए वक़्त की ज़रूरत हो अमलियात दो प्रकार के होते हे एक ऩफा देने वाले अमलियात ओर एक नुकसान करने वाले अमलियात |

1. ऩफा देने वाले अमलियात वो हे जिसको करने से आदमी बुलंद दर्जे पर पहुच जाता हे
2. नुकसान देने वाली अमलियात वो हे जिससे आदमी फैल हो जाता हे |

हमल के लिए अमलियात

किसी ओरत के बच्चा नही लग रहा हो, या अधूरा रह जाता हो, या बार-बार हमल गिरता हो तो वो सुरे नूर की तिलावात करे या हमारे बताए हुए नक्श को चाँदी की तख़्ती पर कुन्दा कर अपने पास रखे, फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं | .

हमजाद को जिस्म से बाहर करने की दुआ

हमजाद वह हे जिस मर्द या ओरत के जीश्म मे समा जाए फिर वो हरकत करने लगता हे उसको दिन-रात का कोई पता नही रहता, वह सोचता क्या हे ओर करता कुछ ओर हे उसको किसी चीज़ का कुछ मालूम नही पड़ता. हमजाद को बाहर निकालने के लिए हमारी बताई हुई दुआ ओर अम्लियात को चालीस रोज़ ईशा की नवाज के बाद बिर्द करे | मिन हा हलक ना कूम पिहा नू कूर दो कूम | फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं |​

काला जादू ख्त्म करने के लिए अमलियात

जीश श्क्स पर काला जादू का असर दिखाई दे उसको चाहिए के सुरे-मुज्जमल का बिर्द करे. या हमारे बताए हुए नक्श लिखकर अपने दाए हाथ के बाजू मे बाँधे ओर आयत करिमा का बिर्द भी कर सकता हे | फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं |

शादी के लिए अमलियात

ठुकराए हुए इश्क़ लव, एक्स-वाइफ, हज़्बेंड को पाने के लिए अमलियात - यदि किसी को इश्क़ मे कामियाबी नही मिल रही हे, या किसी ने ठुकरा दिया हे या सोतन के पीछे पड़ा हुआ हे, तो उसको चाहिए सुरे-फातिर को १५- रोज़ पढ़े. या हमारे बताए हुए नक्श लिखकर अपने पास रखे. फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं |

DUA & Amaliyat For Various Problems

ठुकराए हुए इश्क़ लव, एक्स-वाइफ, हज़्बेंड को पाने के लिए अमलियात

  • यदि किसी को इश्क़ मे कामियाबी नही मिल रही हे या किसी ने ठुकरा दिया हे या सोतन के पीछे पड़ा हुआ हे, तो उसको चाहिए सुरे-फातिर को १५- रोज़ पढ़े. या इसका नक्श लिखकर अपने पास रखे. फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं |

व्यापार मे ऩफा के लिए अमलियात

  • जिस इंशान का कारोबार नही चल रहा या व्यापार मे बार बार नुकसान हो रहा हे या कोई बंदिश आ रही हे तो उसको चाहिए की आयतन कुर्शी को लिखकर या नक्श बनाकर अपने पास रखे | नक्श आप हमे फ़ोन कर के जान सकते है | व्यापार मे ऩफा के लिए अमलियात - अगर फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं |

किसी दुश्मन ओर सोतन को वश मे करने के लिए अमलियात

  • किसी दुश्मन ओर सोतन को वश मे करने के लिए रूबी व कफा-बिलाही वलया व कफ्फा या अल्लाह इस अम्ल को करने से आशिक़ के दिल मे जो भी हो बेकरार होकर हाज़िर होगा, इसका नक्श आप हमे फ़ोन कर के जान सकते है |

किसी को पाने के लिए अमलियात

  • एक्स-वाइफ और लवर इस अमलियात को करने के लिए घोड़े की नाल पर फ़लाह-बिन-फला हुब्बे फॅला बिन फॅला आशिक़ शूद्र लिख दे ओर उसकी मा का नाम लिख दे मतलब आशिक़ बेकरार होकर निहायत वापस पाने की तलब करेगा | यतन कुर्शी को लिखकर या हमारा बताया हुआ नक्श बनाकर अपने पास रखे | अगर फिर भी आपको कोई फ़ायदा ना हो तो आप हमसे फ़ोन के द्वारा संपर्क कर सकते हैं |

“Mr. Bashir Ahmad has Special Command & Power.”

It was an real incredible experience for me. We are happy that Mr. Bashir was the one and only Person who worked for us and the quality of service we got was incredible. we urge you all to try their services. Thanks for making our lives again happy. We wishes best for you and other people who take your services in future.
Sandra Files

For any Inquiries Please Call

Contact
+91.9521621825​